Kanke, Ranchi, Jharkhand

( A State Government University )

बीएयू में विश्व योग दिवस कुलपति बोले विद्यार्थियों के लिए नियमित योगाभ्यास जरूरी

वैश्विक तौर पर मानवता की रक्षा और शांति में योग सशक्त माध्यम बनता जा रहा है.

नियमित योग से शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक एवं मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य बनाये रखा जा सकता है.

विद्यार्थियों में आत्मबल, बुद्धि, चेतना, ईच्छा शक्ति और बेहतर शिक्षा के लिए नियमित योग बेहद सरल माध्यम है.

उक्त विचार कुलपति डॉ ओंकार नाथ सिंह ने बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में आयोजित विश्व योग दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि कही.

डीन एग्रीकल्चर डॉ एसके पाल ने विद्यार्थियों को जीवन में योगाभ्यास को शामिल करने तथा साथियों के बीच योग को बढ़ावा देने पर बल दिया.

मौके पर बीएयू की राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) ईकाई द्वारा विश्वविद्यालय के नवनिर्मित कॉलेज ऑफ़ एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग के भवन में योग शिविर का आयोजन किया गया.

शिविर में श्रीमती कल्पना झा, रांची जिला समन्यवयक. पतंजलि योग समिति ने उपस्थित लोगों को आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, अनुलोम विलोम, क्रिया योग एवं अष्टांग योग का अभ्यास कराया और प्रशिक्षित किया.

समारोह का संचालन डॉ उत्तम कुमार ने किया. स्वागत डॉ बीके झा तथा धन्यवाद ई डीके रूसिया ने की.

शिविर में कुलपति के नेतृत्व में डॉ एसके पाल, डॉ एस कर्माकार, डॉ बीके अग्रवाल, डॉ नीरज कुमार, एचएन दास सहित कृषि, कृषि अभियांत्रिकी, उद्यान एवं वानिकी महाविद्यालयों के छात्र-छात्राएँ शामिल हुए.