Kanke, Ranchi, Jharkhand

( A State Government University )

डॉ उदय कुमार सिंह को बेस्ट केवीके साइंटिस्ट अवार्ड

 

इंडियन सोसाइटी ऑफ़ एक्सटेंशन एजुकेशन, डिवीज़न ऑफ़ एग्रीकल्चरल एक्सटेंशन, आईसीएआर, नई दिल्ली द्वारा बीएचयू में तीन दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया. जिसमें झारखण्ड के कृषि विज्ञान केन्द्रों (केवीके) के वैज्ञानिकों ने झारखण्ड में कृषि की विभिन्न समस्याओं पर शोध पत्र प्रस्तुत किया. साथ ही इसके निदान पर भी चर्चा की गई.

केवीके पलामू के प्रभारी डॉ राजीव कुमार ने पलामू में उन्नत कृषि तकनीकी का प्रसार तथा केवीके पेटरवार बोकारो के प्रभारी डॉ उदय कुमार सिंह ने बोकारो में कृषि प्रसार के नये आयामों के प्रसार पर शोध पत्र प्रस्तुत किया. केवीके विकास भारती गुमला और केवीके आरके मिशन रांची के वैज्ञानिकों ने भी भाग लिया.

समापन के मौके पर सोसाइटी की ओर से केवीके पेटरवार, बोकारो के प्रभारी डॉ उदय कुमार सिंह को बेस्ट केवीके साइंटिस्ट अवार्ड से सम्मानित किया गया.

यह पुरस्कार यूपी सरकार के मंत्री मनीष जायसवाल और आईसीएआर नई दिल्ली के उपमहानिदेशक (प्रसार) डॉ एके सिंह ने संयुक्त रूप से प्रदान किया.

इससे पहले केवीके चतरा के प्रभारी डॉ रंजय कुमार सिंह ने मशरूम की व्यावसायिक खेती की समस्या, डॉ विनोद पांडेय व डॉ वीपी राय ने सरसों खेती के विस्तारीकरण में बाधा तथा धरमा उरांव ने जिले में अरहर फसल की उत्पादन व वृद्धि की संभावना पर शोध पत्र प्रस्तुत किया.

डॉ उदय को यह सम्मान केवीके माध्यम से बोकारो में दलहन व तेलहन फसलों के अग्रिम पंक्ति प्रत्यक्षण से आच्छादन, उत्पादन में वृद्धि, सीड हब के माध्यम से दलहन व तेलहन फसलों के बीज उत्पादन को बढ़ावा देने के अलावा कृषि तकनीकों के प्रसार से किसानों की आय में बढ़ोतरी में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रदान किया गया.

कुलपति डॉ ओएन सिंह ने केवीके वैज्ञानिक को सम्मान मिलने पर हर्ष व्यक्त किया. निदेशक प्रसार डॉ जगरनाथ उरांव, अपर निदेशक प्रसार डॉ एस कर्मकार और केवीके वैज्ञानिकों ने भी बधाई दी.