बिरसा कृषि विवि के कॉलेजों में मना शिक्षक दिवस

बिरसा कृषि विश्वविद्यालय के संकाय और कॉलेजों में बुधवार को शिक्षक दिवस मना। वानिकी संकाय में सेकंड ईयर के छात्र छात्राओ ने इसका आयोजन किया। कार्यक्रम में छात्रों ने गुरु वंदना और गीतों की मनमोहक प्रस्तुति की। उपस्थित शिक्षको को भेंट देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का उदघाटन बीएयू कुलपति डॉ पी कौशल ने किया। उन्होंने छात्र–छात्राओ को निजी जीवन में हर पल ज्ञान सीखने की सलाह दी। कहा कि आज के आधुनिकता और तकनीकी दौर में बने रहने एवं बेहतर भविष्य के लिए सतत अध्ययन के प्रति जागरूक रहने की जरूरत है।

मौके पर अधिष्ठाता वानिकी डॉ महादेव महतो, निदेशक छात्र कल्याण डॉ एमएस यादव, अधिष्ठाता पशु चिकित्सा डॉ एके ईश्वर, अधिष्ठाता कृषि डॉ राघव ठाकुर, डॉ वी शिवाजी, डॉ एसएमएस कुली ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में डॉ एमएच सिद्दिकी, डॉ एमएस मल्लिक, डॉ कौशल कुमार, डॉ जय कुमार, डॉ आरबी साह, डॉ एके चक्रवती, डॉ बसंत उरांव, ज्योतिष केरकेट्टा, डॉ पीआर उरांव, श्रीमती पी तिर्की , श्रीमती एसजे बाखला भी मौजूद थे। मंच संचालन सुमित कुमार एवं श्रेया सिंह ने और धन्यवाद डॉ एस चट्टोपाध्याय ने किया।

डेयरी टेक्‍नोलॉजी महाविद्यालय

डेयरी टेक्‍नोलॉजी महाविद्यालय में पहली बार सेकंड ईयर के छात्र–छात्राओं ने शिक्षक दिवस का आयोजन किया। छात्रों ने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। शिक्षकों को सम्मानित किया। कॉलेज के सह-अधिष्ठाता डॉ आलोक पाण्डेय और पशुचिकित्सा संकाय के प्राध्यापक डॉ अरुण प्रसाद ने शिक्षक दिवस की महत्ता पर प्रकाश डाला। मौके पर डॉ सुबोध कुमार, डॉ जेके शाही, डॉ स्वाति सिवानी, डॉ जय प्रकाश और ई. मोहन जी लाल सहित सभी छात्र–छात्राओं मौजूद थी।

फिशरीज टेक्‍नोलॉजी महाविद्यालय

फिशरीज टेक्‍नोलॉजी महाविद्यालय में फर्स्ट और सेकंड ईयर के छात्र–छात्राओं ने शिक्षक दिवस मनाया। कॉलेज के सह अधिष्ठाता डॉ एके सिंह ने डॉ राधाकृष्णन के तस्वीर पर छात्रों के साथ माल्यार्पण किया। अपने विचार रखे।

आरवीसी में पीजी छात्रों ने मनाया

रांची पशु चिकित्सा महाविद्यालय के पशु उत्पादन एवं प्रबंधन विभाग तथा पशु प्रसार विभाग के पीजी के छात्र–छात्राओं ने शिक्षकों को सम्मानित किया। इस अवसर पर शिक्षकों ने केक काटा। छात्रों ने मधुर संगीत से कार्यक्रम में समां बांधा। इस अवसर पर डॉ जे उरांव और डॉ सुशील प्रसाद ने बेहतर शिक्षा के लिए शिक्षक एवं छात्रों के मधुर सम्बन्ध के बारे में बताया। मौके पर डॉ आलोक पाण्डेय, डॉ रविन्द्र कुमार, डॉ निशांत पटेल सहित दोनों विभाग के विद्यार्थी मौजूद थे।